NEEHARIKANJALI
Poet
Harivansh Rai Bachchan


नाम- डॉ. हरिवंशराय 'बच्चन'
जन्मतिथि- 27-Nov-1907
जन्मस्थान- गाँव- बाबूपट्टी, रानीगंज, जिला- प्रतापगढ़, निकट- इलाहाबाद, उत्तर प्रदेश
शिक्षा- प्रयाग विश्वविद्यालय से अंग्रेज़ी में एम. ए. एवं कैम्ब्रिज विश्वविद्यालय से पीएच. डी.
सम्प्रति- इलाहाबाद विश्वविद्यालय में अध्यापन, बाद में भारत सरकार के विदेश मंत्रालय में हिन्दी विशेषज्ञ रहे. अनन्तर राज्य सभा के मनोनीत सदस्य
लेखन विधा- बच्चन जी ने हिंदी कविता की लगभग सभी विधाओं में लेखन-कार्य किया है
प्रकाशित रचनायें- तेरा हार (1932), मधुशाला (1935), मधुबाला (1936), मधुकलश (1937), निशा निमन्त्रण(1938), एकांत संगीत (1939), आकुल अंतर (1943), सतरंगिनी (1945), हलाहल (1946), बंगाल का काव्य (1946), खादी के फूल (1948), सूत की माला (1948), मिलन यामिनी (1950), प्रणय पत्रिका (1955), धार के इधर उधर (1957), आरती और अंगारे (1958), बुद्ध और नाचघर (1958), त्रिभंगिमा (1961), चार खेमे चौंसठ खूंटे (1962), दो चट्टानें (1965), बहुत दिन बीते (1967), कटती प्रतिमाओं की आवाज़ (1968), उभरते प्रतिमानों के रूप (1969), जाल समेटा (1973) आदि
विशेष- 'बच्चन' जी हिन्दी के सर्वाधिक लोकप्रिय कवियों में अग्रणी हें।
जीवन परिचय- इलाहाबाद के कायस्थ परिवार में जन्मे बच्चन जी का वास्तविक नाम हरिवंश श्रीवास्तव था. इनको बाल्यकाल में बच्चन कहा जाता था जिसका शाब्दिक अर्थ बच्चा या संतान होता है. बाद में ये इसी नाम से मशहूर हुए. इन्होंने कायस्थ पाठशालाओं में पहले उर्दू की शिक्षा ली जो उस समय कानून की डिग्री के लिए पहला कदम माना जाता था. इसके बाद उन्होंने प्रयाग विश्वविद्यालय से अंगरेजी में एम. ए. और कैम्ब्रिज विश्वविद्यालय से पीएच. डी. की. १९२६ में १९ वर्ष की उम्र में उनका विवाह श्यामा बच्चन से हुआ जो उस समय १४ वर्ष की थीं. लेकिन १९३६ में श्यामा की टीबी के कारण मृत्यु हो गई. पांच साल बाद १९४१ में बच्चन ने एक पंजाबिन महिला तेजी सूरी से विवाह किया जो रंगमंच तथा गायन से जुड़ी हुई थीं. इसी समय उन्होंने नीड़ का पुनर्निर्माण जैसे कविताओं की रचना की. तेजी बच्चन से अमिताभ तथा अजिताभ दो पुत्र हुए. अमिताभ बच्चन एक प्रसिद्ध अभिनेता हैं. तेजी बच्चन ने हरिवंश राय बच्चन द्वारा शेक्सपियर के अनूदित कई नाटकों में अभिनय का काम किया है. बच्चन का कार्यक्षेत्र इलाहाबाद रहा. इलाहाबाद विश्वविद्यालय में आपने कई वर्षों तक अध्यापन किया. बाद में आप भारत सरकार के विदेश मंत्रालय में हिन्दी विशेषज्ञ रहे. अनन्तर राज्य सभा के मनोनीत सदस्य भी रहे. बच्चन जी हिन्दी के सर्वाधिक लोकप्रिय कवियों में अग्रणी हें. बच्चन का निधन १८ जनवरी २००३ को मुम्बई में हुआ.

Back to List of Poets
कविता संग्रह


क्रम कविता का शीर्षक कविता देखी गयी
1 मधुशाला / भाग १-४ 123721
2 मधुशाला / भाग ५-७ 105885
3 इस पार, प्रिये मधु है तुम हो 154955




***सहमति पत्र***

1. मैं साहित्यिक वेबसाइट www.niharikanjali.com को अपनी साहित्यिक रचनाएं जो कि मेरी स्वयं की मौलिक रचनाएं हैं, प्रकाशित करने की सहमति प्रदान करता / करती हूँ। इसके लिए उपरोक्त वेबसाइट से मैं भविष्य में कभी भी अपनी रचनाओं को प्रकाशित करने के लिए किसी भी प्रकार के भुगतान की मांग नहीं करूंगा / करूंगी।

2. विवाद की स्थिति में रचनाओं की मौलिकता सिद्ध करने में वेबसाइट www.niharikanjali.com की किसी प्रकार की कोई जिम्मेदारी नहीं होगी एवं रचनाओं की मौलिकता सिद्ध करने का प्रथम एवं अंतिम कर्तव्य मेरा स्वयं का ही होगा।

3. उपरोक्त वेबसाइट से संबंधित किसी भी प्रकार के विवाद का न्यायिक क्षेत्र कानपुर अथवा दिल्ली ही होगा।